नई दिल्ली. जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद की हालत नाजुक बनी हुई है, उन्हें बुधवार को एम्स में एडमिट कराया गया था. राजनैतिक गलियारों में इस बात की चर्चा जोरों पर है कि सीएम मुफ्ती स्वास्थ्य वजहों से जल्द ही सत्ता की कमान अपनी बेटी महबूबा मुफ्ती को सौंप सकते हैं.
 
1999 में जम्मू-कश्मीर पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की स्थापना करने वाले सईद (79) एम्स की सघन चिकित्सा इकाई में 24 दिसंबर से भर्ती हैं. उनकी छाती में इन्फेक्शन है. 
 
सीएम सईद की देखभाल उनकी बेटी गुलशन आरा, बेटी महबूबा मुफ्ती और बेटे तसद्दुक सईद कर रहे हैं. आधिकारिक बयानों में बताया गया है कि सईद की सेहत में नाजुक बनी हुई है. केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने 29 दिसंबर को एम्स का दौरा कर चिकित्सकों से सईद की हालत की जानकारी ली थी.
 
सईद के बीमार पड़ने से पहले से ही इस बात की चर्चा मीडिया में आने लगी थी कि सईद पहली मार्च 2016 को सत्ता में रहने का एक साल पूरा करने के बाद सत्ता महबूबा को सौंप देंगे.  महबूबा इस वक्त पीडीपी की प्रमुख हैं. पीडीपी, बीजेपी के साथ मिलकर जम्मू-कश्मीर पर शासन कर रही है.
 
बीजेपी से हुए समझौते के मुताबिक सईद सरकार के पूरे कार्यकाल, छह साल तक मुख्यमंत्री रहेंगे. बीजेपी के अंदरूनी सूत्रों का कहना है कि पार्टी महबूबा को मुख्यमंत्री बनाने का विरोध नहीं करेगी. लेकिन, यह तय है कि सत्ता में और अधिक हिस्सेदारी की मांग जरूर करेगी.