नई दिल्ली. दिल्ली में प्रदूषण कम करने के लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अब दिल्ली के बच्चों से सहयोग मांगा है. केजरीवाल ने बच्चों को खुला पत्र भी लिखा है. जिसे दिल्ली के सभी अखबारों में प्रकाशित किया गया है.
 
केजरीवाल ने बच्चों को प्रदूषण मुक्त करने शपथ दिलवाई. वहीं आज सुबह सिविल लाइन्स स्थित एक स्कूल में केजरीवाल ने कहा कि मेरे बच्चे भी प्रदूषण को लेकर चिंतित हैं. हमारी सरकार इसे कम करने को लेकर कई कदम उठा रही है.
 
केजरीवाल ने कहा कि ऑड-ईवन फॉर्मूले को अपने माता-पिता से लागू करने के लिए कहें. ये हमारी हैल्थ के लिए जरूरी है. केजरीवाल ने कहा कि सरकार सब लोगों को डंडा मारकर नियम का पालन नहीं करवा सकती, इसलिए आप लोग अपने घर पर बड़ों के समझाएं. जमकर नियम तोड़ने वालों को समझाएं. हम जल्द ही सड़कों को री-डिजाइन करेंगे और साइकिल ट्रैक बनाएंगे. किसी भी शहर में ऑड-ईवन हमेशा के लिए नहीं होता, प्रदूषण बढ़ने पर ही इसे लागू किया जाता है. 
 
केजरीवाल ने कहा कि आपके परिवार और शिक्षकों की तरह मेरे लिए भी यह चिंता की बात है. हमारी सरकार ने प्रदूषण कम करने के लिए कई कदम उठाए हैं, इन्हीं मे से एक हैं दिल्ली प्राइवेट कारों के लिए ऑड-ईवन नबंर की योजना लागू करना है. देश में ऐसा पहली बार हो रहा है. इससे सड़को पर कारों की संख्या आधी हो जाएगी. इससे ट्रेफिक कम होगा और प्रदूषण घटेगा.
 
बता दें कि 1 से 15 जनवरी तक दिल्ली में ऑड ईवन फॉर्मूला लागू हो रहा है. दिल्ली पुलिस और सिविल डिफेंस वर्कर मिलकर रिहर्सल भी करेंगे ताकि 1 जनवरी से लागू होने वाले ऑड-ईवन फॉर्मूले के दौरान कोई दिक्कत न हो. गुरुवार को ऑड-ईवन का ट्रायल होगा, जो सुबह 9 बजे से लेकर 11 बजे तक चलेगा. ट्रायल के दौरान कोई जुर्माना नहीं लगेगा. इस दौरान वॉलंटियर ट्रैफिक पुलिस के साथ मिलकर काम करेंगे. उसके बाद एक जनवरी से इसे पूरी तरह से लागू किया जाएगा.