मेरठ. उत्तर प्रदेश में मेरठ जिले के सरधना विधानसभा क्षेत्र से बीजेपी विधायक संगीत सोम, जिले के एसएसपी के उदासीन रवैये से नाराज हैं. उनका आरोप है कि आईएस की ओर से मिली धमकी को जिले के एसएसपी गंभीरता से नहीं ले रहे हैं.
 
बता दें कि मुजफ्फरनगर दंगे के आरोपी संगीत सोम को चिली से आई एक कॉल में जान से मारने की धमकी दी गई थी और फोन करने वाले व्यक्ति ने खुद को आईएस से जुड़ा बताया था. विधायक ने इस मामले की शिकायत पुलिस के आला अधिकारियों से भी की थी.
 
संगीत सोम ने बताया कि आईएस की तरफ से जो धमकी मिली थी, उस मामले को क्षेत्र के आईजी ने संज्ञान में लेकर जांच के आदेश दिए थे. सोम ने कहा, “यह काफी हास्यास्पद है कि आईजी के जांच आदेश के बाद भी जिले के एसएसपी ने इस पूरे मामले पर अनभिज्ञता जाहिर की, जबकि उन्हें इस मामले की जानकारी है. जाहिर है, वह सपा नेताओं के इशारे पर चल रहे हैं.”
 
सोम ने बताया कि इस मामले में एसएसपी का रवैया उदासीन रहा. उनसे संपर्क करने का प्रयास किया गया, लेकिन वह फोन कॉल का जवाब देना भी उचित नहीं समझते. वह अपनी बात शीर्ष अधिकारियों के सामने रखेंगे.
 
उन्होंने कहा कि जब एक जनप्रतिनिधि के साथ हुए मामले में उनका यह रवैया है तो वह आम आदमी की शिकायत पर क्या करते होंगे.
सोम ने केंद्रीय गृहमंत्रालय और प्रदेश सरकार को पत्र लिखकर पूरे मामले से अवगत करा दिया है और एसएसपी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है. उन्होंने आईएस की धमकी के मामले की जांच सुरक्षा एजेंसियों से कराने का अनुरोध किया है.