नई दिल्ली. दिल्ली में ऑटो परमिट घोटाला सामने आने के बाद केजरीवाल सरकार ने करीब 900 ऑटो परमिट रद्द कर दिए हैं.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपने कैबिनेट मंत्रियों और वरिष्ठ नौकरशाहों के साथ एक बैठक की थी. इस बैठक में 900 से ज्यादा ऑटो के परमिट रद्द करने का फैसला लिया गया.

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की अध्यक्षता में हुई एक उच्चस्तरीय बैठक के बाद दिल्ली परिवहन विभाग के तीन अधिकारियों उपायुक्त (ऑटो रिक्शा यूनिट) रॉय बिस्वास, इंस्पेक्टर मनीष पुरी और क्लर्क अनिल यादव को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है.

वहीं बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सतीश उपाध्याय ने इस मुद्दे पर परिवहन मंत्री गोपाल राय का इस्तीफा मांगते हुए कहा कि इस मुद्दे पर हमने उप-राज्यपाल नजीब जंग से परिवहन विभाग से एक रिपोर्ट मांगने का अनुरोध किया है. जांच भ्रष्टाचार रोधी शाखा को सौंपी जानी चाहिए. उन्होंने कहा कि घोटाले में केजरीवाल की भी संलिप्तता है और बीजेपी सोमवार को दिल्ली सचिवालय में विरोध-प्रदर्शन करेगी.