नई दिल्ली. केजरीवाल सरकार के ऑड-ईवन फार्मूले को लेकर सोनिया गांधी के दामाद राबर्ट वाड्रा ने कहा कि इस व्यवस्था में वीआईपी की सूची क्यों बनाई जा रही है? यह सब पर एक जैसा लागू होना चाहिए.
 

Odd and Even ways !!Creating parallel lists of exemption, is complete hypocrisy.If a law is implemented in the interest of the people, we all must adhere, and not be VIPs.

Posted by Robert Vadra on Friday, December 25, 2015

 
वाड्रा ने ट्वीट कर लिखा, ”छूट की समानांतर सूची बनाना पूरी तरह से पाखंड है. यदि जनता की भलाई के लिए कोई कानून बनाया जा रहा है तो यह सब पर लागू होना चाहिए.”
 
ऑड-इवन फॉर्मूले के नियम:
  • 1 से 15 जनवरी तक लागू
  • सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक नियम लागू
  • रविवार को ऑड-इवन फॉर्मूला लागू नहीं
  • नियम तोड़ने वालों पर दो हजार का जुर्माना
  • ऑड तारीख पर ऑड और ईवन पर ईवन गाड़ियों को पार्किंग की इजाजत