नई दिल्ली. दिल्ली के डीडीसीए घोटाले में वित्त मंत्री अरुण जेटली के खिलाफ आवाज उठाने वाले दरभंगा से बीजेपी सांसद कीर्ति आजाद को पार्टी से निलंबित किए जाने पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने कहा है कि ऐसा करके पार्टी से राजनीतिक गलती हुई है.

सुत्रों के मुताबिक संघ ने बीजेपी के इस फैसले पर नाराजगी जताते हुए कहा है कि कीर्ति पर जल्दबाजी में कार्रवाई हुई है. बीजेपी को इस मामले पर पहले गंभीरता से विचार करना चाहिए था उसके बाद ही पार्टी को कोई निर्णय लेना चाहिए था.

संघ सूत्रों का कहना है कि इस मामले का सरकार से कोई लेना-देना नहीं है. संघ के मुताबिक इस फैसले के बाद आम आदमी पार्टी को राजनीतिक फायदा हो सकता है, वहीं बीजेपी को राजनीतिक नुकसान हो सकता है.