पटना. बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी एनडीए का साथ छोड़ सकते हैं. हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) के प्रदेश अध्यक्ष वृषिण पटेल ने बताया कि अगर दल में सबकी सहमति रही तो पार्टी एनडीए से गठबंधन तोड़ सकती है.
 
इसके पीछे की वजह उन्होंने अल्संख्यक वोटों का ना मिलना बताया है. उन्होंने कहा कि भाजपा के साथ गठबंधन के कारण उनकी पार्टी को चुनाव मे काफी नुकसान हुआ है क्योंकि अल्पसंख्यक वर्ग के वोट भाजपा के साथ नहीं है और उनके साथ के बिना देश का विकास संभव नहीं है. 
 
बता दें कि बिहार विधान सभा चुनाव में ‘हम’ ने एनडीए के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ा था जिसमें उसे बस एक सीट हासिल हुई थी.