नई दिल्ली. दिल्ली सचिवालय पर सीबीआई की छापेमारी को लेकर आम आदमी पार्टी और केंद्र के बीच चल रहे राजनीतिक गतिरोध के बीच केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन राठौर ने आरोप लगाया कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल एक भ्रष्ट अधिकारी को अपने नजदीक रखते हैं.
 
राठौर ने कहा कि डीडीसीए की अनियमितताओं को लेकर जितनी भी कंपनियों के नाम लिए गए उनमें से कोई भी वित्त मंत्री अरूण जेटली से नहीं जुड़े होने के बावजूद केजरीवाल अपशब्दों का इस्तेमाल कर रहे हैं.
 
कीर्ति आजाद पर कार्रवाई के बारे में पूछने पर राठौर ने कहा, यह सरकार को नहीं पार्टी को निर्णय करना है. मेरा मानना है कि पूरे वाकये को काफी साफ कर दिया गया है. राठौर ने कहा, केजरीवाल को विशेष रूप से जवाब देना है क्योंकि वह भ्रष्टाचार के खिलाफ राजनीति कर रहे हैं और एक ऐसे व्यक्ति को अपने नजदीक रखते हैं जिसकी पहचान भ्रष्ट व्यक्ति के रूप में हुई है, और हद यह है कि केजरीवाल इस तथ्य को जानते हैं कि वह एक भ्रष्ट अधिकारी हैं.
 
राठौर ने अधिकारी का नाम नहीं लिया लेकिन उनकी टिप्पणी केजरीवाल के प्रधान सचिव राजेन्द्र कुमार के कार्यालय और उनके आवास पर हुई छापेमारी के परिप्रेक्ष्य में आई है.