नई दिल्ली. राज्यसभा में आज जुवेनाइल जस्टिस बिल पर चर्चा होगी. संसदीय मामलों के राज्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने आज निर्भया के माता-पिता से उनके आवास पर मुलाकात की. उन्होंने निर्भया के माता-पिता को यह आश्वासन दिया है कि आज जुवेनाइल बिल को पारित कर दिया जाएगा. 
 
इस मुलाकात के बाद नकवी ने बताया कि केंद्र सरकार ने हर दल से बात की है और उन्होंने आश्वासन दिया है कि आज यह विधेयक पारित हो जाएगा. इसके तहत घृणित अपराधों में लिप्त 16 से 18 साल की उम्र के किशोरों के खिलाफ भी उसी तरह से मुकदमा चलाया जाएगा, जैसे वयस्कों के खिलाफ चलाया जाता है.
 
उन्होंने आगे कहा, ”चर्चा आज से शुरू होगी. सदन चर्चा का स्थान है. यदि किसी के पास भी कोई सुझाव है तो वे चर्चा के दौरान इसे रख सकता है लेकिन हमें लगता है कि अब और देरी नहीं होनी चाहिए क्योंकि पहले ही बहुत देरी हो चुकी है.” मंत्री ने कहा कि सरकार ने मानसून सत्र में इस विधेयक को 12 बार सूचीबद्ध किया था लेकिन चूंकि सदन चल ही नहीं रहा था इसलिए इसे उठाया नहीं जा सका.
 
क्या कहा निर्भया की मां ने?
निर्भया के मां कहा, ”दोषी रिहा नहीं होता, यदि यह बिल 6 महीने पहले पास हो जाता, पर मैं चाहती हूं कि ये बिल पास हो जाए. मुझे सरकार ने भरोसा दिलाया है कि यह बिल पास हो जाएगा.” 
 
बता दें कि 16 दिसंबर 2012 के गैंगरेप दोषी नाबालिग को सिर्फ इसलिए कोर्ट छोड़ दिया गया क्योंकि जिस वक्त इसने संगीन घटना को अंजाम दिया उस वक्त उसकी उम्र 18 साल नहीं थी. यही कानून का फायदा उसको मिला और वो रिहा हो गया.