मुंबई. फोटोग्राफर और आर्टिस्ट हेमा उपाध्याय और वकील हरीश भंबानी के मर्डर केस में पांचवीं गिरफ्तारी हो गई है. आज उनके पति चिंतन उपाध्याय को गिरफ्तार कर लिया गया है. इससे पहले विजय राजभर, प्रदीप राजभर, शिवकुमार राजभर और आजाद राजभर को गिरफ्तार किया जा चुका है. मुख्य आरोपी विद्याधर अब भी फरार है.
 
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पुलिस ने हेमा उपाध्याय के पति चिंतन उपाध्याय को मंगलवार देर रात गिरफ्तार किया था. चिंतन को पहले कांदीवली पुलिस स्टेशन में पूछताछ के लिए बुलाया गया और उसके बाद गिरफ्तार किया गया. जांच कर रहे एक सीनियर अधिकारी ने कहा, ”अब तक जांच के आधार पर चिंतन हमारा पहला शक चिंतन पर ही जा रहा था. 
 
बता दें कि मुंबई में हेमा उपाध्‍याय और उनके वकील की लाश कांदिवली के एक नाले में मिली हैं. पुलिस के मुताबिक लाश गत्ते के बॉक्स से मिली जिसकी पहचान कलाकार हेमा उपाध्‍याय और उनके वकील हर्ष भंबानी के रूप में की गई थी.  हेमा ने साल 2013 में अपने पति और जाने-माने कलाकार चिंतन उपाध्‍याय के खिलाफ उत्पीड़न की शिकायत दर्ज कराई थी.
 
हेमा का आरोप था कि चिंतन उनके कमरे की दीवारों पर अश्‍लील स्‍केच बनाते थे. इस मामले में भंबानी उनका केस लड़ रहे थे. पुलिस ने इस मामले में तीन लोगों को हिरासत में ले लिया है.