वाराणसी. अपने बयानों से विवादों में रहने वाले केंद्रीय सूक्ष्म, लघु, मध्यम उद्योग राज्यमंत्री गिरिराज सिंह ने हिंदुओं की जनसंख्या कम होने पर चिंता जताई है. उन्होंने कहा कि हिंदुओं की आबादी कम हो रही है. यह चिंता का विषय है. गिरिराज सिर्फ यहीं नहीं रुके उन्होंने आगे कहा कि ज्यादा बच्चे पैदा करने वाले मुसलमानों से मताधिकार भी छीन लेने चाहिए.
 
उन्होंने कहा कि साधु-संन्यासियों को मठों-मंदिरों से निकलकर जनता के बीच जाना चाहिए. उन्हें सनातन धर्म के सामने आ रही चुनौतियों के बारे में बताना चाहिए. गिरिराज सिंह रविवार को काशी विद्यापीठ के गांधी अध्ययन केंद्र के सभागार में सनातन धर्म बचाओ सम्मेलन में मुख्य अतिथि थे. सम्मेलन का आयोजन वेदशास्त्रानुसंधान केंद्र की ओर से स्वामी करपात्री जी महाराज की स्मृति मे किया गया था.
 
उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यक की परिभाषा नए सिरे से तय होनी चाहिए. मुसलमानों की बढ़ती आबादी को रोकने के लिए कानून बनाकर नीति को अमल में लाने की जरूरत है और अगर कोई नियम नहीं मानता है तो उससे मताधि‍कार छीन लेना चाहिए. 
 
उन्होंने कहा कि चीन ने जनसंख्या नीति का कड़ाई से पालन कर विकास लक्ष्य को हासिल किया है. यहां अनियंत्रित जनसंख्या के कारण विकास का लाभ लोगों तक नहीं पहुंच रहा है. 
 
सर्वेश्वर चैतन्य ब्रह्मचारी ने कहा कि सनातन धर्म विलक्षण है. सबसे प्राचीन है. इस धर्म में कई चुनौतियों का सामने करने की क्षमता है. इन्हीं चुनौतियों का मुकाबला 2500 साल पहले शंकराचार्य ने किया था. सनातन धर्म की रक्षा के लिए वर्णाश्रम धर्म की रक्षा जरूरी है. अभिषेक ब्रह्मचारी ने कहा कि जब-जब धर्म खतरे में पड़ा ईश्वर ने अवतार लिया है.