नई दिल्ली. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने कहा है कि अगर ब्रह्मा, विष्णु और महेश भी धरती पर उतर आएं, तो भी वो 1 अप्रेल से जीएसटी लागू नहीं करा पाएंगे. क्योंकि सरकार ने इस व्यवस्था के लिए अभी तक कोई काम शुरू नहीं किया है.

आनंद शर्मा ने कहा कि अगर प्रधानमंत्री और विपक्षी नेता साथ हो जाएं और हम सब ओवरटाइम करें, तो भी जीएसटी की तथाकथित 1 अप्रैल 2016 की समय सीमा हासिल नहीं होगी.

शर्मा ने कहा कि संविधान संशोधन इस विधेयक को लागू करने का मार्ग प्रशस्त करेगा. यहां तक कि इसे अगर इसे कल पारित करना है तो इसका अनुमोदन 50 प्रतिशत राज्य विधानसभाओं से कराना होगा. इसके बाद ही वास्तविक विधेयक आ पाएगा. जीएसटी के लिए तीन विधेयकों को लागू करना होगा जो केंद्रीय जीएसटी, राज्य जीएसटी और आईजीएसटी हैं.

राज्यसभा में अटका है जीएसटी

गौरतलब है कि जीएसटी को लागू करने वाला संविधान संशोधन विधेयक राज्य सभा में अटक गया है जहां सत्तारूढ़ एनडीए बहुमत में नहीं है. इस विधेयक का कांग्रेस और कई अन्य विपक्षी पार्टियां विरोध कर रही हैं.