नई दिल्ली. नेशनल हेराल्ड मामले में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी सहित बाकियों को जमानत मिलने के बाद बीजेपी के वरिष्ठ नेता और वकील सुब्रमण्यन स्वामी ने दावा किया है कि वो 2016 में ये केस जीत जाएंगे, जिसके बाद सोनिया-राहुल सहित बाकी आरोपियों को जेल जाना पड़ेगा.

सुब्रमण्यन स्वामी ने कहा कि मैंने आज बेल का विरोध नहीं किया, केवल छूट का विरोध किया, इसीलिए आरोपियों को बेल मिल गई और छूट नहीं मिली. उन्होंने कहा कि कोर्ट में सोनिया और राहुल गांधी को बैठने की इजाजत नहीं दी गई थी.

इस मामले पर पीएम मोदी से कभी भी बात नहीं की

पीएम मोदी पर कांग्रेस के तमाम आरोपों के बाद सुब्रमण्यन स्वामी ने ये भी कहा कि मैने इस मामले में कभी भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात नहीं की और ना ही इस केस में उनका कोई हाथ है. कांग्रेस बेवजह उनपर आरोप लगा रही है.

उन्होंने कहा कि ये केस गवाहों पर आधारित नहीं है बल्कि पूरी तरह दस्तावेजों पर आधारित है. सुब्रमण्यन स्वामी ने एक ट्वीट भी किया है जिसमें उन्होंने लिखा है कि सोनिया और राहुल अगली पेशी से छूट चाहते थे पर कोर्ट ने इसे मंजूर नहीं किया.

मुझे किसी का साथ नहीं चाहिए

कोर्ट के बाहर स्वामी से पूछा गया कि क्या उन्हें इस केस में बीजेपी का साथ नहीं मिला ? तो स्वामी ने जवाब दिया कि मुझे टूजी केस में भी किसी पार्टी का साथ नहीं मिला था और इस केस में बी मुझे किसी का साथ नहीं चाहिए. मुझे डॉक्युमेंट्स चाहिए, मंत्रियों का समर्थन नहीं.