पुणे. आतंकी संगठन ISIS में शामिल होने की तैयारी कर रही 16 साल की एक लड़की को महाराष्ट्र एटीएस ने सीरिया जाने से पहले सफलतापूर्वक हिरासत में ले लिया है. स्कूल में 90 पर्सेंट मार्क्स लाने वाली पुणे की यह लड़की जयपुर से अरेस्ट किए गए ISIS एजेंट सिराजुद्दीन के कॉन्टैक्ट में थी. एटीएस ने पूछताछ के बाद लड़की को रिहैबिलिटेशन सेंटर भेजा है.
 
क्या है मामला?
जयपुर से हाल ही में इंडियन ऑयल में मार्केटिंग मैनेजर सिराजुद्दीन को अरेस्ट किया गया था. उस पर ISIS का रिक्रूटर होने का आरोप है. सिराज सोशल मीडिया के जरिए कई लड़कियों के कॉन्टैक्ट में था. इन्हीं में पुणे की यह लड़की भी शामिल थी. एक अंग्रेजी अखबार के मुताबिक, इस लड़की पर पिछले कई दिनों से नजर रखी जा रही थी. लड़की पुणे के एक बड़े स्कूल में 11वीं में पढ़ती है. जब यह कन्फर्म हो गया कि लड़की आईएस से जुड़े लोगों के टच में है, तो उससे पूछताछ की गई.
 
यह लड़की पढ़ने में अच्छी है और अब तक 90 पर्सेंट के आसपास मार्क्स लाती थी लेकिन आईएस के टच में आने के बाद वह बिल्कुल बदल गई. उसने जीन्स छोड़कर बुर्का पहनना शुरू कर दिया. उसकी फैमिली ने भी उसमें आए बदलावों को नोटिस किया. पुणे के एटीएस अफसर भानुप्रताप बारगे ने बताया कि लड़की आईएस में शामिल होने के लिए किसी भी हद तक जाने को तैयार थी. लड़की टीवी पर एक डॉक्युमेंट्री देखने के बाद आईएस से प्रभावित हुई. इसके बाद उसने लगातार एक खास टीवी चैनल देखना शुरू कर दिया. टीवी चैनल पर नजर रखने के बाद उसने इंटरनेट पर आईएस से जुड़ी चीजें सर्च करनी शुरू की. इंटरनेट पर ही वह आईएस से जुड़े लोगों के टच में आई. आईएस के लोगों ने उसका ब्रेनवॉश किया. बताया जा रहा है कि लड़की के अलग-अलग देशों के करीब 200 लोगों से कॉन्टैक्ट थे.