नई दिल्ली. सीबीआई ने भ्रष्टाचार के मामले में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के प्रिंसिपल सेक्रेटरी राजेंद्र कुमार को पुछताछ के बाद फिलहाल छोड़ दिया है.

सीबीआई करीब 8 बजे राजेंद्र को पूछताछ के लिए सीबीआई मुख्यालय लेकर गई थी. सीबीआई ने पूछताछ के बाद उन्हें छोड़ दिया है. हालांकि आगे क्या होगा ये साफ नहीं हो पाया है. राजेंद्र फिर पूछताछ के लिए बुलाए जा सकते हैं.

इससे पहले मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आरोप लगाया था कि सीबीआई टीम दरअसल उनके दफ्तर वित्त मंत्री अरुण जेटली से जुड़ी दिल्ली एण्ड डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन (DDCA) के भ्रष्टाचार की फाइलें लेने आई थी.

केजरीवाल ने मीडिया से कहा कि सीबीआई टीम राजेंद्र कुमार की आड़ में उनकी फाइलें खंगाल रही थी. केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली एण्ड डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन में भ्रष्टाचार की जांच का वो आदेश देने वाले थे और सीबीआई टीम उस फाइल की तलाश में छापा मारने आई थी.

केजरीवाल ने कहा कि सीबीआई के सभी बयान सरासर झूठ हैं और उन्हें इस छापेमारी से बहुत हैरानी हुई है. उन्होंने कहा कि जिस 2007 के मामले को लेकर राजेंद्र कुमार की आड़ में ये छापा मारा गया, उस मामले में कायदे से शिक्षा विभाग में भी रेड पड़ना चाहिए था क्योंकि राजेंद्र कुमार पर ये मामला शिक्षा विभाग का है.