नई दिल्ली. जीएसटी विधेयक को संसद में पास कराने के लिए वित्त मंत्री अरूण जेटली 14 दिसंबर को कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात करेंगे.

केंद्र सरकार ने इस संबंध में कांग्रेस के सामने कुछ प्रस्ताव रखे हैं, जिसके जवाब सोमवार को मिलने की उम्मीद है, जब संसद की बैठक फिर शुरू होगी. संसद के शीतकालीन सत्र के अब ज्यादा दिन नहीं बचे हैं.

जीएसटी विधेयक को लेकर कांग्रेस नेताओं की एक बैठक रविवार को होने वाली है, जिसमें पार्टी के शीर्ष नेता इन प्रस्तावों पर विचार करेंगे. सूत्रों का कहना है कि वित्त मंत्री अरुण जेटली इस संबंध में राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद और सदन में कांग्रेस के उप नेता आनंद शर्मा के साथ बात कर चुके हैं.

वहीं आनंद शर्मा का कहना है कि कांग्रेस को इस संबंध में अभी अंतिम प्रस्ताव नहीं मिला है और वह मिलने के बाद ही हम इसपर फैसला करेंगे. उन्होंने कहा कि विधेयक के बहुत से मुद्दे अभी ऐसे हैं, जिन्हें स्वीकार्यता की हद तक नहीं लाया गया है और इस बारे में थोड़ा आगे आने की जरूरत है.

शर्मा ने कहा कि हम जीएसटी के हक में हैं. काम अभी चल रहा है और हमें एक उचित फैसला लेना है. इसे जल्दबाजी में आगे नहीं बढ़ा सकते क्योंकि इसका हमारी कर प्रणाली पर दूरगामी प्रभाव होगा. कांग्रेस ने विधेयक की मंजूरी की कोई समय सीमा बताने से इंकार करते हुए कहा था कि इतने महत्वपूर्ण विधेयकों को जल्दबाजी में मंजूर नहीं किया जा सकता.