नई दिल्ली.  आम आदमी पार्टी (आप) ने अपने नेता पंकज गुप्ता तथा आशीष खेतान पर पार्टी से निष्कासित नेता प्रशांत भूषण द्वारा लगाए गए आरोपों को निराधार बताते हुए उनके खिलाफ कोई भी जांच कराने से इंकार कर दिया. आप के प्रवक्ता आशुतोष ने राष्ट्रीय राजधानी में कहा, ‘पंकज गुप्ता व आशीष खेतान के खिलाफ कोई जांच नहीं होगी, क्योंकि उनपर लगे आरोप निराधार और बेबुनियाद हैं.’

उल्लेखनीय है कि प्रशांत ने आप के महासचिव पंकज गुप्ता पर एक फर्जी कंपनी से दो करोड़ रुपये चंदा लेने तथा आशीष खेतान पर 2जी घोटाले में शामिल एक दूरसंचार कंपनी के पक्ष में पैसे लेकर एक राष्ट्रीय पत्रिका में एक फर्जी खबर बनाने का आरोप लगाया है. आशुतोष ने कहा, ‘उन्होंने राजनीतिक मामलों की समिति (पीएसी), राष्ट्रीय कार्यकारिणी तथा राष्ट्रीय परिषद का अपमान किया है, जिनका वे हिस्सा थे. उनमें थोड़ी भी शर्म होनी चाहिए.

उन्हें अब लोकतंत्र के बारे में बातचीत नहीं करनी चाहिए.’ इसी बीच, अपने खिलाफ भूषण के आरोपों पर आशीष खेतान ने कहा कि उनके द्वारा लगाए आरोप निराधार हैं और कहा कि यदि वे इसे साबित कर दें, तो वह सार्वजनिक जीवन से संन्यास ले लेंगे. खेतान ने कहा, ‘यदि शांति भूषण या प्रशांत भूषण मेरे खिलाफ आरोपों के संदर्भ में कोई सबूत पेश करें, तो मैं सार्वजनिक जीवन से संन्यास ले लूंगा.’