नई दिल्ली. केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने क्षेत्रीय परिवहन कार्यालयों यानी आरटीओ को आड़े हाथों लेते हुए उन्हें देश में सबसे भ्रष्ट करार दिया और कहा कि वे चंबल के डकैतों से ज्यादा लूटते हैं.

नितिन गडकरी ने आरटीओ में पसरे भ्रष्टाचार पर अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि आरटीओ देश में सबसे भ्रष्ट इकाई है. उन्होंने लूट में चंबल के डकैतों को भी पीछे छोड दिया है. उन्होंने कहा कि  नए मोटर कानून के क्रियान्वयन में बहुत देरी हो रही है. भूतल परिवहन और सुरक्षा विधेयक लागू होने पर पूरा क्षेत्र सुधर जाएगा.

गडकरी ने आगे बोलते हुए कहा कि परिवहन क्षेत्र में पारदर्शिता और कंप्यूटरीकरण के विरोधी कुछ निहित स्वार्थ वाले लोग नए विधेयक के खिलाफ हैं और मुझे यह कहते हुए पीड़ा हो रही है कि आरटीओ अधिकारियों ने राज्यों में मंत्रियों को विधेयक का विरोध करने के लिए उकसाया है.

उन्होंने ये भी कहा कि भारत की तरह आसानी से ड्राइविंग लाइसेंस और कहीं हासिल नहीं किए जा सकते. इनमें से 30 फीसदी लाइसेंस फर्जी होते हैं. गडकरी ने कहा कि अब राज्य साथ में हैं और नया कानून लागू होने पर इलेक्ट्रॉनिक ड्राइविंग लाइसेंसों, ऑनलाइन परमिटों और अन्य सुधारों से परिवहन क्षेत्र बदल जाएगा.