नई दिल्ली. बैंकाक में भारत और पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) की आज मुलाकात हुई. इस दौरान दोनो देशों ने सुरक्षा व शांति के अलावा आतंकवाद, जम्मू-कश्मीर और एलओसी सहित कई मुद्दों पर चर्चा हुई. इसके बाद दोनों देशों ने एक ज्वाइंट स्टेटमेंट भी जारी किया.
 
पेरिस में जारी संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन शिखर सम्मेलन से इतर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके पाकिस्तानी पीएम नवाज शरीफ के बीच मुलाकात में इस वार्ता का निर्णय लिया गया था. बैंकाक दोनों पक्षों के लिए ही सुविधाजनक स्थान था और इसी वजह से बातचीत के लिए इसे चुना गया.
 
दोनों देशों की ओर से जारी बयान में कहा गया, ‘इस वार्ता में शांति और सुरक्षा, आतंकवाद, जम्मू एवं कश्मीर, और नियंत्रण रेखा पर शांति बनाए रखने सहित कई दूसरे मुद्दों पर चर्चा हुई.’ इसके साथ ही इसमें कहा गया कि यह वार्ता सौहार्दपूर्ण और रचनात्मक माहौल में आयोजित की गई. इस बयान में कहा गया, इन रचनात्मक कार्यकलापों को आगे भी जारी रखने की सहमति बनी है.
 
बता दें कि रूस के उफा में हुए समझौते के तहत हुई इस बैठक की पहल पीएम मोदी की ओर से हुई थी. इससे पहले इसी साल भारत और पाकिस्तान के बीच एनएसए स्तरीय वार्ता रद्द कर दी गई थी, क्योंकि दोनों पक्षों के बीच बैठक के एजेंडे पर सहमति नहीं बन पाई थी.