नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली में प्रदूषण कम करने के लिए बने ओड-इवेन फार्मूले के तहत एक जनवरी को पहले दिन ओड नंबर गाड़ियां चलेंगी. इसके बाद दूसरे दिन इवेन नंबर गाड़ियों को चलाने की अनुमति दी जाएगी.
 
इसकी जानकारी देते हुए दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा, ” सरकार के नए फैसले के तहत पहले दिन एक जनवरी को ऑड नंबर गाड़ियां चलाई जाएगी. इसके बाद  इवेन नंबर गाड़ियां चलेंगी. फिर इसे अल्टरनेट किया जाएगा.” 
 
8 दिसंबर को होगी महत्वपूर्ण बैठक
जैन ने बताया कि इस फैसले पर कई योजनाओं को लेकर आठ दिसंबर के दिन मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली कैबिनेट और प्रदूषण समिति की बैठक होगी. फिर योजनाओं को लेकर थोड़े बदलाव किए जा सकते हैं.”
 
उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के कार पूल आईडिया का समर्थन देते हुए कहा, ”मैं खुद पब्लिक ट्रांसपोर्ट और कार पूल सिस्टम का इस्तेमाल करता हूं. इस समय दिल्ली में प्रदूषण सबसे ज्यादा है, इसलिए यह फार्मूला अपनाना जरुरी है. ओड नंबर सिस्टम सभी नेताओं पर भी लागू होंगी.”