नई दिल्ली. विधायकों के वेतन बढ़ाने को लेकर दिल्ली सरकार की तरफ से सीएम अरविंद केजरीवाल ने पीएम मोदी के वेतन पर सवाल करते हुए कहा कि अगर अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा मोदी से उनकी सैलरी पूछेंगे तो वह उन्हें क्या जवाब देंगे.
 
गुरुवार के दिन जनलोकपाल पर चर्चा के दौरान दिल्ली विधानसभा में केजरीवाल ने कहा, ”एक लाख रूपये प्रति माह कैसे तर्कसंगत नहीं है? अगर प्रधानमंत्री का वेतन इससे कम है तो उनका वेतन बढ़ाया जाना चाहिए.”
 
 
केजरीवाल ने कहा,”विधायकों की तनख्वाह बढ़ाया जाना गलत नहीं है. हम सारे मांग करते हैं कि पीएम अपनी तनख्वाह बढ़ाएं. एक लाख रुपए उन्हें शोभा भी नहीं देता. कल वह ओबामा से मिलें और ओबामा पूछें कि कितनी तनख्वाह है और कहें कि एक लाख रुपए, बताइए क्या शोभा देता है अपने पीएम को? उनको अपनी तनख्वाह आठ से 10 लाख रुपए महीने करनी चाहिए.”
 
बता दें कि दिल्ली में वेतन और भत्ता बढ़ाने के संशोधित बिल के नियमों के तहत अब दिल्ली के विधायक को करीब 2,35,000 रुपये प्रतिमाह मिलेगा. विधायकों के मासिक वेतन में प्रतिवर्ष 5,000 रुपये की वृद्धि भी की जाएगी. पेंशन भी 7,000 रुपये से बढ़ाकर 15,000 रुपये प्रतिमाह कर दिया गया है.