नई दिल्ली. दिल्ली विधानसभा ने विधायकों का वेतन और भत्ता बढ़ाने का संशोधित बिल पास कर दिया गया है. अब दिल्ली के विधायकों को हर महीने वेतन और भत्ते मिलाकर 88 हजार रुपए के बदले करीब 2 लाख 35 हजार रुपए तक मिलेंगे.
 
सभी भत्तों  को मिलाकर अब दिल्ली के विधायक को करीब 2,35,000 रुपये प्रतिमाह मिलेगा. विधायकों के मासिक वेतन में प्रतिवर्ष 5,000 रुपये की वृद्धि भी की जाएगी. पेंशन भी 7,000 रुपये से बढ़ाकर 15,000 रुपये प्रतिमाह कर दिया गया है.
 
कहां कितने रूपए बढ़े ?
 
विधानसभा में उपस्थिति के लिए मिलने वाला भत्ता 1,000 रुपए से 2,000 रुपये प्रतिदिन.
विधायक का वेतन भत्ता 88,000 से बढ़कर 1,85,000 रुपए प्रतिमाह.
यात्रा भत्ता 6,000 रुपए से बढ़ाकर 30,000 रुपए.
दफ्तर आदि के किराए के लिए 25,000 रुपये प्रतिमाह.
विधान सभा क्षेत्र के नाम हर महीने 50,000 रुपए.
कार्यालय के फर्नीचर आदि के लिए एक लाख रुपए.
लैपटॉप, मोबाइल फोन और प्रिंटर आदि के लिए भी एक लाख रुपए.
टेलीफोन बिल चुकाने के लिए प्रतिमाह 8,000 रुपए बढ़कर 10,000 रुपए दिए गए
ऑफिस स्टाफ के लिए प्रतिमाह 70,000 रुपये की रकम दी गई है.
कार खरीदने के लिए 4 लाख रुपये की जगह 12 लाख रुपये का कर्ज मिलेगा
भ्रमण के लिए भी 50,000 रुपये की जगह 3 लाख रुपये दिए गए है., जिसमें विदेश यात्राएं भी शामिल हैं