नई दिल्ली. टेनिस स्टार सानिया मिर्ज़ा ने मध्य प्रदेश की खेल मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया के इस दावे का खंडन किया है कि राज्य के खेल पुरस्कार समारोह में जाने के लिए उन्होंने चार्टर्ड फ्लाइट के अलावा कोई पैसे-वैसे की मांग की थी.

सानिया का पीआर देखने वाली एजेंसी ने एक बयान जारी करके कहा है कि मध्य प्रदेश सरकार के लोगों के हवाले से मीडिया में आई ये खबरें गलत हैं कि सानिया ने वहां जाने के लिए 5 लाख रुपए की मांग की थी.

सानिया की पीआर एजेंसी ने कहा है कि सानिया को 28 नवंबर को भोपाल में सरकार के खेल पुरस्कार समारोह में शामिल होना था और 29 नवंबर को गोवा में एक कार्यक्रम में हिस्सा लेना था.

एजेंसी ने कहा है कि भोपाल से गोवा जाने में सामान्य फ्लाइट 7 घंटे का वक्त ले रही थीं जिस वजह से सानिया के लिए दोनों इवेंट में जाना मुश्किल साबित हो रहा था. इसी दिक्कत के मद्देनजर मध्य प्रदेश सरकार से भोपाल से गोवा के लिए चार्टर्ड फ्लाइट का आग्रह किया गया था ताकि सानिया गोवा के कार्यक्रम का कमिटमेंट पूरा कर सकें.

सानिया की पीआर एजेंसी KWAN ने कहा है कि मीडिया में सानिया के बारे में इस तरह की बातें करना उनके लिए अपमानजनक और दुखद है. एजेंसी का कहना है कि कई बार किसी सेलिब्रिटी को देश के दो हिस्सों में बहुत कम समय के अंतर पर अलग-अलग कार्यक्रमों में पहुंचने के लिए इस तरह के आग्रह करने पड़ते हैं.