अहमदाबाद. गुजरात के स्थानीय निकाय चुनाव के अब तक आए नतीजों ने कांग्रेस में जान भर दी है. शहरी क्षेत्रों में बीजेपी का दबदबा तो कायम है लेकिन ग्रामीण इलाकों में कांग्रेस ने बड़ा हिस्सा कब्जा किया है. इन नतीजों को वरिष्ठ कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने राज्य में बीजेपी के सफाए की शुरुआत बताया है.
 
अब तक मिले नतीजों के मुताबिक राज्य के 6 नगर निगम और ज्यादातर नगरपालिकाओं में बीजेपी ने जीत दर्ज की है. लेकिन कांग्रेस ने 31 में 21 जिला पंचायत पर कब्जा जमा लिया है जबकि बीजेपी को मात्र 6 जिला नसीब हुए हैं. 4 जिला पंचायत में भी मामला टाई का दिख रहा है. कांग्रेस ने 230 तहसील में से ज्यादातर जीत ली हैं.
 
राज्य में 22 नवंबर और 29 नवंबर को दो चरण में हुए स्थानीय निकाय चुनाव में 6 नगर निगम, 56 नगरपालिका, 31 जिला पंचायत, 230 तहसील पंचायत के लिए चुनाव कराए गए थे. चुनाव से पहले बीजेपी का सारे नगर निगम, 150 तहसील, 42 नगरपालिका और 30 जिला पंचायत पर कब्जा था. 
 
गुजरात की मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल के लिए यह चुनाव एक परीक्षा थी क्योंकि नरेंद्र मोदी के पीएम बनने के बाद गुजरात में यह पहला चुनाव था. कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि दिल्ली और बिहार के बाद अब गुजरात के नतीजे बता लोगों का मन-मिजाज बता रहे हैं. उन्होंने कहा कि बीजेपी राज्य की सीएम आनंदीबेन पटेल के तहसील में भी कांग्रेस से हार गई है.