न्‍यूयॉर्क. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति बराक ओबामा ने भारत अमेरिकी सामरिक साझेदारी को और बेहतर बनाने के लिए सुरक्षा, आतंकवाद और कट्टरवाद से निपटने, रक्षा, आर्थिक साझेदारी और जलवायु परिवर्तन पर सहयोग को और गति देने जैसे कई अहम मुद्दों पर चर्चा की.

प्रधानमंत्री मोदी ने अमेरिका का समर्थन मांगते हुए सुरक्षा परिषद की स्थायी सदस्यता की भारत की उम्मीदवारी का समर्थन किए जाने पर राष्ट्रपति बराक ओबामा का धन्यवाद किया.

पीएम मोदी ने कहा कि दोनों नेता आतंकवाद से निपटने में अफगानिस्तान की जनता की मदद करने और एक शांतिपूर्ण स्थिर और खुशहाल देश बनाने में आपसी सहयोग और विचार विमर्श को और मजबूत बनाने पर भी सहमत हुए. मोदी ने कहा, यह बैठक और अमेरिका में मेरी अन्य व्यवस्तताएं हमारे संबंधों की असाधारण गहराई और विविधता का परिचायक है. उन्होंने कहा कि हमारी मुलाकात हमारे कुछ तात्कालिक प्राथमिकताओं को आगे बढ़ाने और हमारे सामरिक साझेदारी को और व्यापक बनाने के संदर्भ में काफी फलदायक रही.

ओबामा ने पीएम मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि सुरक्षा, अर्थव्यवस्था व्यापार, निवेश और रक्षा खरीद में सहयोग जैसे मुद्दों पर प्रधानमंत्री मोदी बेहतरीन साझेदार हैं. अमेरिका के राष्ट्रपति से द्विपक्षीय बातचीत के बाद संयुक्त बयान में मोदी ने कहा कि हमारी साझेदारी व्यापक सामरिक और सुरक्षा चिंताओं के संदर्भ में है और रक्षा व्यापार और प्रशिक्षण सहित हमारे बीच रक्षा सहयोग बढ़ रहा है.