नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुनावों के बाद कई बड़े-बड़े रिकॉर्ड बनाए हैं. उन्होंने कई विदेश यात्राएं की और उनमें से कई यात्राओं में मोदी ऐसे देशों में गए हैं, जहां पिछले कई दशकों से किसी भी भारतीय प्रधानमंत्री ने कदम नहीं रखा था. मोदी 24 से 28 सितम्बर तक अमेरिका दौरे पर हैं. पीएम के रूप में मोदी का यह अमेरिका का दूसरा दौरा है और मोदी के पीएम बनने के बाद यह 16वीं विदेश यात्रा होगी.
 
मंगोलिया में किसी भारतीय प्रधानमंत्री ने पहली बार कदम रखा
क्वार्ट्ज.कॉम में छपी रिपोर्ट के मुताबिक़,मई 2015 में, मोदी मंगोलिया की यात्रा पर जाने वाले पहले भारतीय प्रधानमंत्री हैं. मोदी ने राजमहल में मंगोलिया के प्रधानमंत्री के साथ साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस में  मंगोलिया को आर्थिक क्षमता और बुनियादी ढांचे के विकास के लिए एक अरब डालर का कर्ज देने घोषणा की. मंगोलिया भारत की एक्ट ईस्ट पालिसी का अभिन्न हिस्सा है. कई विशेषज्ञों का इस यात्रा के बारे में कहना था कि यह यात्रा चीन की बढ़ती शक्ति का परिणाम थी. 
 
60 साल में पहली बार भारतीय प्रधानमंत्री की आयरलैंड यात्रा 
60 साल में आयरलैंड पहुंचने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले भारतीय प्रधानमंत्री हैं. इससे पहले जवाहर लाल नेहरू ने 1956 में आयरलैंड का दौरा किया था. यात्रा के बारे में मोदी ने फेसबुक पर पोस्ट में लिखा, हम आने वाले वर्षों में आयरलैंड के साथ आर्थिक संबंधों और लोगों के बीच सम्पर्क को और मजबूत बनाने की उम्मीद करते हैं. भारत और आयरलैंड के बीच संबंध स्वतंत्रता के बाद से ही हैं. 
 
कनाडा : 42 साल में पहली बार 
मोदी इसी साल अप्रैल में कनाडा के दौरे पर गए थे. मोदी पहले प्रधानमंत्री हैं  जिन्होंने 1973 में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के दौरे के बाद कनाडा का दौरा किया.  सरकार के आंकड़ों के मुताबिक़, मोदी की कनाडा यात्रा से  लगभग 7,944 करोड़ रूपये की  बिज़नेस डील हुईं. यात्रा के दौरान, भारत सरकार ने कनाडा के साथ रक्षा, ऊर्जा, सूचना तकनीकी, एजुकेशन और कई अन्य क्षेत्रों में 16 से ज्यादा डील कीं. सरकार ने कनाडा यात्रा के दौरान एक अहम करार पर हस्ताक्षर किए थे. इसके तहत अगले पांच वर्षों में भारत, कनाडा से तीन हज़ार टन से ज़्यादा यूरेनियम खरीदेगा. इसका इस्तेमाल भारत के परमाणु कार्यक्रम में किया जाएगा. 
 
यूएई यात्रा: 34 साल में पहली बार 
अगस्त में, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) की यात्रा की. इससे पहले इंदिरा गांधी 1981 में  यूएई गईं थी. यूएई करीब 26 लाख भारतीयों का घर है. यूएई में मोदी ने दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में करीब 50,000 भारतियों को संबोधित किया। मोदी की 75 मिनट की स्पीच भारत माता की जय नारे के साथ समाप्त हुई. 
 
सेशेल्स यात्रा : 33 साल में पहली बार 
मार्च में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 33 सालों में सेशेल्स जाने वाले पहले प्रधानमंत्री बने. उन्होंने ट्वीट कर यात्रा के बारे में कहा कि यह यात्रा भारत की विदेश नीति की प्राथमिकता को दिखाती है. सेशेल्स में भी कई भारतीय बसे हुए हैं. 
 
फ़िजी यात्रा : 33 साल में पहली बार
नवम्बर 2014 में, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 33 सालों में फ़िजी जाने  वाले पहले प्रधानमंत्री बने. यात्रा के दौरान, मोदी ने फ़िजी के लोगों के लिए वीज़ा ऑन अरायवल की सुविधा दी. फ़िजी में करीब 37% आबादी भारतीय हैं. 
 
ऑस्ट्रेलिया : 28 सालों में पहली बार 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नवंबर 2014 में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर गए थे. इससे पहले 1986 में राजीव गांधी ऑस्ट्रेलिया गए थे. मोदी ने एबट के साथ साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘मैं सुरक्षा सहयोग के लिए नए तंत्र का स्वागत करता हूं. क्षेत्रीय शांति और स्थिरता बढ़ाने, आतंकवाद से मुकाबले तथा दोनों देशों से संबंधित अपराधों से निपटने में भारत और ऑस्ट्रेलिया की नई साझेदारी में सुरक्षा और सहयोग महत्वपूर्ण तथा विस्तार पाते क्षेत्र हैं.’
 
नेपाल :17 साल में पहली बार 
नरेंद्र मोदी 17 साल में पहली बार अगस्त 2014 में, नेपाल गए थे. इसके अलावा मोदी नेपाल की संविधान सभा को संबोधित करने वाले पहले प्रधानमंत्री हैं. नवम्बर 2014 में, मोदी दूसरी बार नेपाल गए थे.
 
प्रधानमंत्री मोदी इजरायल भी जा सकते हैं
क्वार्ट्ज.कॉम के मुताबिक़, इसी साल के अंत तक मोदी इजरायल जाने वाले पहले प्रधानमंत्री होंगे. हालांकि अभी तक दौरे के लिए तारीखों की घोषणा नहीं की गई है.