नई दिल्ली. अग्नि अखाड़े के महामंडलेश्वर कैलाशानंद और उनके दिवंगत गुरु महामंडलेश्वर रसानंद महाराज का नाम एक महिला ने पिछले तीन महीने से विवादों में घसीट रखा है. दिल्ली की इस महिला का नाम है तेजेंद्रजीत कौर, जो खुद को कैलाशानंद के गुरु रसानंद की पत्नी और उनके बच्चे की मां होने का दावा कर रही है.
 
तेजेंद्रजीत कौर ने कल साध्वी प्राची और महिला संत गुरु मां कंचन की प्रेस कॉन्फ्रेंस में भी जमकर बवाल मचाया. महिला संतों का आरोप है कि तेजेंद्रजीत कौर के जरिए महामंडलेश्वर कैलाशानंद को फंसाने और उनके मठ की संपत्ति हड़पने की साज़िश रची जा रही है. जिसका पर्दाफाश करने के लिए गुरु मां कंचन और साध्वी प्राची ने प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई थी. गुरु मां कंचन का दावा है कि उन्होंने साज़िश का पर्दाफाश करने के लिए एक स्टिंग भी किया है. प्रेस कॉन्फ्रेंस शुरू होते ही वहां तेजेंद्रजीत कौर पहुंच गईं और उन्होंने हंगामा खड़ा कर दिया.
 
तेंजेद्रजीत कौर इससे पहले कैलाशानंद के खिलाफ पुलिस में शिकायत भी दर्ज़ करा चुकी हैं. तेजेंद्रजीत कौर का दावा है कि वो 8 साल से रसानंद के आश्रम में रह रही थीं. रसानंद का इस साल उज्जैन सिंहस्थ कुंभ के दौरान निधन हो गया. उसके बाद ही तेजेंद्रजीत कौर ने पहली बार दावा किया कि वो रसानंद की पत्नी हैं और उनके बच्चे को जन्म भी दे चुकी है. तेजेंद्रजीत कौर का आरोप है कि रसानंद के आश्रम की बागडोर अपने हाथों में आने के बाद महामंडलेश्वर कैलाशानंद ने उन्हें आश्रम से बेदखल कर दिया, जबकि रसानंद महाराज ने अपनी वसीयत में उनके बच्चे को संपत्ति में हिस्सा देने की बात लिख दी थी.