नई दिल्ली. पूरा देश जब करगिल की जंग के शहीदों को उनकी शहादत की 17वीं बरसी पर याद कर रहा था, उसी दौरान जम्मू-कश्मीर के नौगाम में पाकिस्तानी घुसपैठियों के साथ मुठभेड़ भी चल रही थी.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी देश के वीर सपूत जवानों के साहस को ट्वीट करके नमन किया है. मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘करगिल विजय दिवस के मौके पर मैं उन वीर जवानों को नमन करता हूं जिन्होंने युद्ध में अंतिम सांस तक लड़ाई लड़ी.
 
उनके बलिदान से हमें प्रेरणा मिलती है.’ उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘हमारे वीर सपूतों ने जिस साहस और बलिदान के साथ घुसपैठियों को खदेड़ा उसे भारत कभी भूल नहीं सकता.’
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
अब सवाल उठ रहा है कि आखिर करगिल की जंग से हिंदुस्तान ने क्या सीखा ? क्या करगिल के बाद पाकिस्तान को हम कोई सबक सिखा पाए ? इंडिया न्यूज के खास शो ‘बड़ी बहस’ में इसी अहम मुद्दे पर पेश है चर्चा.
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो