नई दिल्ली. राजनीति में बिना बात के भी शोरगुल होता है लेकिन यूपी में नेताओं को मुद्दे के नाम पर पूरी फिल्म मिल गई है. और फिल्म का नाम है- शोरगुल, जिसे मुज़फ्फरनगर दंगों पर आधारित बताया जा रहा है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
यूपी चुनाव से पहले मुज़फ्फरनगर दंगों पर फिल्म क्यों? फिल्म का मकसद मनोरंजन करना है या फिर माहौल बिगाड़ना. जैसा कि आरोप लग रहा है इंडिया न्यूज के खास शो ‘बड़ी बहस’ में पेश है इन्हीं सवालों पर चर्चा.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा बहस