नई दिल्ली. आरक्षण के लिए जाटों का आंदोलन हरियाणा में चल रहा है, लेकिन इसका खामियाजा पूरे देश को भुगतना पड़ रहा है. दो दिन से बेकाबू हिंसक आंदोलनकारियों ने आधा दर्जन से ज्यादा रेलवे स्टेशनों पर आगजनी की है.

सरकार शांति की अपील कर रही है. पुलिस 129 मुकदमे दर्ज कर चुकी है. तीन शहरों में कर्फ्यू है. आठ जिलों में सेना तैनात है. फिर भी हिंसा थमी नहीं है. हरियाणा सरकार वादा कर चुकी है कि वो जाट समाज को आरक्षण देने के लिए तैयार है, बस थोड़ा वक्त चाहिए. फिर आंदोलनकारी हिंसा पर क्यों उतारू हैं ?

अब ये बड़ी बहस का मुद्दा है कि हरियाणा में आरक्षण की आग किसने भड़काई ? हिंसा की आग से घर जलेगा या भला होगा ?

वीडियो में देखें पूरा शो