नई दिल्ली. शनि शिंगणापुर में महिलाओं की बराबरी का मुद्दा धर्मगुरुओं से होते हुए एक बार फिर सीएम देवेंद्र फड़नवीस तक आ पहुंचा है. आज अहमदनगर डीएम दफ्तर में इस मामले को लेकर एक अहम बैठक हुई और बैठक का नतीजा ये निकला कि आखिरी फैसला सीएम देवेंद्र फड़नवीस करें.

कहा जा रहा है कि ये फैसला भूमाता ब्रिगेड और शिंगणापुर ट्र्स्ट दोनों को मंजूर होगा. सुनने में तो ये हल बेहद सीधा और आसान लग रहा है. लेकिन हकीकत में कहानी कुछ और है. मंदिर ट्र्स्ट के लोग एक तरफ सीएम पर फैसला छोड़ने की बात कह रहे हैं लेकिन दूसरी तरफ वो परंपरा के खिलाफ किसी बात का समर्थन नहीं करने की बात भी खुल्लमखुल्ला कह रहे हैं.

ऐसे में बड़ा सवाल ये है कि क्य़ा शनि शिंगणापुर में हल निकालने के नाम पर अब टोपी पहनाने का खेल शुरू हो गया है ?

वीडियो में देखें पूरा शो