नई दिल्ली. पठानकोट में आतंकी हमला होने से पहले ही खुफिया एजेंसियों को पता था कि पंजाब में ऐसा कुछ हो सकता है. अलर्ट भी जारी था, फिर भी आतंकियों ने एयरबेस का सुरक्षा घेरा तोड़ा और हमला कर दिया.
 
पठानकोट से सटे गुरदासपुर ज़िले में पांच महीने पहले ही थाने पर आतंकी हमला हुआ था. तब भी मालूम था कि आतंकियों ने घुसपैठ करने के लिए पंजाब सीमा की सुरक्षा में सुराख ढूंढ लिया है. फिर भी आतंकी दोबारा घुसे और हमला करने में कामयाब रहे.
 
खुद रक्षा मंत्री मान चुके हैं कि सुरक्षा में चूक हुई. पठानकोट एयरबेस पर 6 आतंकियों को मारने में 7 जवानों की शहादत पर भी बड़ी बहस जारी है कि क्या आतंकियों से निपटने की रणनीति ठीक थी?
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो: