नई दिल्ली. 16 दिसंबर 2013 को दिल्ली में चलती बस में निर्भया का गैंगरेप जिन शैतानों ने किया था, उनमें एक नाबालिग था. निर्भया के साथ सबसे ज्यादा हैवानियत उसी ने की थी, जिसे नाबालिग मानते हुए सिर्फ 3 साल के लिए सुधार गृह में रखने का फैसला सुनाया गया था.

इस फैसले के हिसाब से निर्भया गैंगरेप के नाबालिग अपराधी की रिहाई रविवार को हो जाएगी, क्योंकि उसे कैद में रखने की याचिका हाईकोर्ट से खारिज हो चुकी है. निर्भया गैंगरेप के बाद देश में 16 से 18 साल वाले नाबालिगों के खिलाफ बालिगों की तरह मुकदमा चलाने पर बहस छिड़ी.

इस साल 7 मई को लोकसभा ने इस बारे में बिल भी पास कर दिया, लेकिन वो बिल राज्यसभा में अटक गया है. अब निर्भया गैंगरेप के नाबालिग अपराधी की रिहाई पर अफसोस तो हर कोई जता रहा है, लेकिन ये कोई नहीं बता रहा कि आखिर निर्भया को इंसाफ कैसे मिलेगा.

वीडियो में देखें पूरा शो