नई दिल्ली. आज पूरे देश में मकर संक्रांति, बिहू और पोंगल का त्योहार हर्ष और उल्लास के साथ मनाया जा रहा हैं. मकर संक्रांति, बिहू और पोंगल के इस पावन मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को बधाई दी हैं. उन्होने ट्वीट कर मकर संक्रांति, बिहू और पोंगल के शुभ अवसर पर सभी देशवासियों को ढेरों बधाई दी हैं. मोदी ने गुजरात के सभी मित्रों को उत्तरायण के अवसर पर शुभकामनाएं दी हैं. साथ ही माघ बिहू के मौके पर असम के लोगों को बधाई दी हैं.

भारत में मकर संक्रांति पर्व को काफी धूमधाम के साथ मनाया जाता है. इस दिन से सूर्य उत्तरायण होता है और सूर्य पृथ्वी के सबसे नजदीक होता है. मकर संक्रांति हर राज्य में उनकी संस्कृति के अनुसार मनाया जाता है. इस दिन सूर्य की उपासना की जाती है. 14 जनवरी को मकर संक्रांति मनाई जाती है. इस दिन लोग गंगा नदी में स्नान करते है. घरो में ख‍िचड़ी का भोग लगाया जाता है और तिल के लड्डू प्रासाद में बांटे जाते हैं. गुजरात पर संक्रांति के दिन पतंग उड़ाई जाती है.

आज सूबह से ठंड काफी बढ़ चुकी है. लेकिन देश के अलग अलग कोने में लोग नदियों के घाट पर पहुंच चुके है. इस ठंड में लोग स्नान कर रहे है. वही लोगों का मानना है कि आस्था से बड़ा कुछ नही होता है. मकर संक्रां‍ति के दिन व्रत करने और व्यंजन बनाने की विशेष परंपरा है. इस दिन तिल के पानी से नहाधोकर पूजा की जाती है. वैसे तो गंगा स्नान करने की परंपरा भी है. स्नान के बाद सूर्य को अर्घ्य देकर सूर्य भगवान की पूजा की जाती है. साथ ही इस दिन पितरों का ध्यान भी करना चाहिए. सूर्य देव को भोग में तिल के पकवान चढ़ाए जाते हैं. आज के पावन अवसर पर लोग नदियों में स्नान करते हैं.

ये भी पढ़े

मकर संक्रांति 2018: इस दिन भूलकर भी न करें ये 10 काम वरना नहीं बरसेगी सूर्य देव की कृपा

Happy Makar Sankranti 2018 messages and wishes : व्हाट्सएप, फेसबुक और SMS पर अपने दोस्तों और करीबियों को दें मकर संक्रांति की शुभकामनाएं