नई दिल्ली. ज्यादातर लोग दूध को उबाल कर ही पीते हैं लेकिन आपको बता दें कि ऐसा करना सेहत को नुक्सान पहुंचा सकता है क्योंक विशेषज्ञों के अनुसार पूरी तरह उबाला गया दूध फायदेमंद नहीं होता. इसके पूरा लाभ के लिए इसे पाश्च्युरीकृत यानि मलाई या क्रीम के साथ ही पीना चाहिए.
 
विशेषज्ञों ने इसकी वजह बताते हैं कि दूध में “केसीन” एवं “वे” दो तरह के प्रोटीन, विटामिन (ए, डी, ई, के) और कैल्शियम होते हैं. जब हम दूध को उबाल आने तक गर्म करते हैं तो इससे विटामिन और कैल्शियम की खत्म हो जाती है. इसके साथ ही दोनों प्रोटीन अवस्था बदल लेते हैं. इसके कारण दूध में इनका कमी हो जाती है.
 
ऐसे करें दूध को पाश्च्युरीकृत
 
दूध को उबाल आने के कुछ मिनट पहले ही उसे उतार लेंना चाहिए और तुरंत किसी ठंडे स्थान पर रखें. गर्म करके ठंडा कर देने से दूध पाश्च्युरीकृत हो जाता है. पाश्च्युरीकृत दूध में उसके पौष्टिक गुण तो रहते ही हैं साथ ही जीवाणु-कीटाणु भी नहीं पनपते.
 
इस बात का रहे ध्यान 
दूध में सूक्ष्माणु पनपने होते लगते हैं इसलिए निकाले जाने के बाद दूध को जितनी जल्दी हो सके पाश्च्युरीकृत करना चाहिए. यदि किसी वजह से दूध को गर्म नहीं कर सकते हैं तो उसे जल्दी किसी ठंडे जगह पर रखें ऐसा करने से उसमें सूक्ष्माणु पनपने का खतरा कम हो जाएगा.