नई दिल्ली. हाल ही में किए गए एक रिसर्च से सामने आया हे कि आगर आपके एक बांह पर 11 से अधिक तिल हैं तो आपको मेलेनोमा नाम का स्किन कैंसर होने का खतरा हो सकता है. ब्रिटेन की पत्रिका डर्माटोलॉजी में छपी ये रिसर्च 300 जुड़वां औरतों पर आधारित है.
 
बीबीसी में छपी खबर के अनुसार लंदन किंग्स कॉलेज के रिसर्चरों ने जुड़वा महिलाओं पर आठ साल तक रिसर्च किया. उसमें उनकी त्वचा के प्रकार, शरीर पर मौजूद तिल और चकत्तों के बारे में जानकारी हासिल की. वहीं कॉलेज के ट्विन रिसर्च एंड जेनेटिक एपिडेमियोलॉजी के ऑथर सिमोन रिबेरो का कहा कि इस खोज से कैंसर के शुरुआती देखभाल में काफ़ी मदद मिलेगी. ब्रिटेन में मेलेनोमा से हर साल 13,000 से अधिक लोग प्रभावित होते हैं.
 
इस रिसर्च में 400 पुरुषों और महिलाओं पर किए गए रिसर्च में पाया गया कि अगर महिला की दाहिनी बांह पर सात तिल हैं तो उसे त्वचा कैंसर का ख़तरा पूरे शरीर में 50 तिल होने के ख़तरे से नौ गुना अधिक है. यदि दाहिनी बांह पर 11 तिल के निशान हैं, तो पूरे शरीर में 100 तिल होने के मुक़ाबले मे इस कैंसर के होने का खतरा सबसे ज्यादा है.
 
वहीं लंदन के कैंसर रिसर्च के हेल्थ इनफॉरमेशन मैनजर डॉ. क्लेयर नाइट ने कहा कि, ‘केवल बांहों पर ही ध्यान मत दीजिए,ये कैंसर शरीर शरीर में कहीं भी हो सकता है. उन्होंने कहां कि महिलाओं के पैर और पुरुषों के शरीर के निचले हिस्से में होने के ज्यादा ख़तरे हैं.