नई दिल्ली. शाकाहारी खाना सेहतमंद जीवनशैली की चाबी है. इन दिनों लोग शाकाहारी खाने की ओर मुड़ रहे हैं. वे मानने लगे हैं ‘स्वस्थ खाओ, लंबा जियो’ और इसके साथ ही वे लगातार बढ़ रहे पर्यावरण के प्रदूषण को कम करना चाहते हैं. ज्यादा से ज्यादा लोग इस बात के लिए जागरूक हो रहे हैं कि 70 प्रतिशत बीमारियां, जिनमें एक तिहाई कैंसर भी शामिल है, वह उनके आहार से जुड़ी हुई हैं.
 
शाकाहारी भोजन प्राकृतिक रूप से सेहतमंद होता है और इससे पतनकारी जीवनशैली से जुड़ी हुई बीमारियां जैसे कि हृदय धमनी रोग, मोटापा, हाई ब्लड प्रेशर, मधुमेह के साथ ही प्रोस्टेट, ब्रेस्ट, पेट, फेफड़ों और भोजन नली का कैंसर होने का खतरा कम होता है.
 
ऐसी अनेक बातें हैं जो शाकाहारी खाने को प्राथमिक बनाती हैं. सबसे पहली है इसमें मौजूद फाइबर की मात्रा, जो हमारे ब्लडप्रेशर के स्तर पर असर करता है. यानी यह हमारा ब्लडप्रेशर कम करता है और हाईपरटेंशन और दिल की अन्य बीमारियां होने से बचाता है. 
 
शाकाहारी खाने में पोटाशियम, जटिल कार्बोहाइड्रेट्स, पॉलीअनसेचुरेटेड फैट, फाइबर, कैल्शियम, मैगनीशियम, विटामिन सी और विटामिन ए होते हैं जो ब्लडप्रेशर को संतुलित रखने में हमारी मदद करते हैं. इसका दूसरा फायदा यह है कि इसमें कैलरीज की मात्रा कम होती है जो मोटापे को नियंत्रण में रखती है. शाकाहारी खाने में कोलेस्टरॉल और फैट की मात्रा कम होने से हाईपरटेंशन का खतरा भी कम होता है. 
 
हार्ट केयर फाउंडेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष डॉ के.के. अग्रवाल ने बताया ‘शाकाहारी भोजन दिल के रोगों से बचाने, इलाज करने और नियंत्रण करने में हमारी मदद करता है. शाकाहारी भोजन का कम चर्बी और कोलेस्ट्रॉल वाला गुण काफी हद तक कॉरनरी हार्ट डिसीज के लिए जिम्मेदार हाइपरटेंशन, डायबटीज और मोटापे को कम करने व दूर करने में मदद करता है.’
 
कम ग्लीसिमिक वाले खाद्य पदार्थ जैसे कि संपूर्ण अनाज और फलीदार खाद्य पदार्थ जल्दी पच जाते हैं, ब्लड शुगर का स्तर नियमित और संतुलित रखते हैं, इसलिए यह दिल पर सुरक्षा कवच का काम करते हैं. सोलेबल फाइबर से भरपूर खाद्य पदार्थ कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है. भरपूर मात्रा में फल, सब्जियां, सूखे मेवे और संपूर्ण अनाज खाने से शरीर में ऊर्जा का आवश्यक स्तर और दिल सेहतमंद बना रहता है.
 
शाकाहारी खाना तभी फायदेमंद हो सकता है जब उसको सही ढंग से खाया जाए. अगर आप शाकाहारी हैं या शाकाहारी अपनाने की सोच रहे हैं तो आपको पता होना चाहिए कि आप को क्या खाना चाहिए. आपकी शाकाहारी थाली में सही मात्रा होनी चाहिए, ताकि आपको मनचाहे व सेहतमंद जीवनशैली के फायदे इससे मिल सकें.