नई दिल्ली. नवरात्रि के दौरान नौ दिन व्रत रखना आपकी सेहत के लिए असल मायने में फायदेमंद साबित हो सकता है. विशेषज्ञों का सुझाव है कि इसके लिए संतुलित आहार क्या है और उसे कब खाया जाए, यह जानना बेहद जरूरी है.
अपोलो अस्पताल के वरिष्ठ सलाहकार डॉ. अनूप धीर बताते हैं कि व्रतधारियों को तला-भुना या तैलीय खाना नहीं खाना चाहिए, क्योंकि ऐसा करने से शरीर में कैलोरी की मात्रा बढ़ेगी और परिणामस्वरूप चर्बी बढ़ेगी.
 
व्रत के दौरान खाइए ये चीजें
नवरात्रि के दौरान कुट्टू के आटा का उपभोग सबसे आम है, जिसमें बहुत ज्यादा कैलोरी होती है. 
नवरात्रि के दौरान आलू को भी एक मुख्य सब्जी के रूप में देखा जाता है. इसे खाने का मतलब उच्च मात्रा में कार्बोहाइड्रेट की खपत है. लोगों को इन्हें कम से कम मात्रा में खाना चाहिए.
नियमित अंतराल पर थोड़ा-थोड़ा खाना, तरल या पीने की चीजें लेते रहना चाहिए और जरूरत से ज्यादा खाना नहीं खाना चाहिए.
 
ताजा फलों व जूस का सेवन करना चाहिए
व्रत अगर सही तरीके से किया जाए, तो यह अतिरिक्त चर्बी घटाने में एक कारगर व प्रभावी तरीका हो सकता है.
व्रत को वजन घटाने का शॉर्टकट नहीं बनाना चाहिए, क्योंकि भूखे रहने से शरीर का पाचनतंत्र पर बुरा असर पड़ सकता है.
व्रतधारी दही, घर में बना पनीर, मूंगफली, ताजा सब्जियों व फलों का जूस ले सकते हैं.
पीने के लिए लस्सी, नारियल पानी, घर में बने सूप, नींबू पानी और ग्रीन टी का इस्तेमाल करें.