नई दिल्ली.  आदिशक्ति मां दुर्गा की उपासना का पर्व नवरात्रि 13 अक्टूबर से शुरू होने जा रहा है.  बुराई पर अच्छाई की जीत के रूप में  आने वाले नौ दिनों तक  मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा की जाती है. 
 
पहले दिन दुर्गा मां के स्वरूप ‘शैलपुत्री’ की पूजा की जाती है. दूसरे दिन मां ब्रह्मचारिणी, तीसरे दिन मां चंद्रघंटा, चौथे दिन कूष्माण्डा देवी, पांचवा दिन स्कंदमाता, छठे स्वरूप कात्यायनी, सातंवे शक्ति कालरात्रि, आठवें दिन मां महागौरी, नौवें दिन मां सिद्धिदात्री की पूजा की जाती है. 
 
प्रत्यक्ष नवरात्रों में एक को शारदीय व दूसरे को वासंतिक नवरात्र कहा जाता है. देवी शक्ति और उसके विभिन्न रुपों की पूजा के लिए भारत विश्वभर में प्रसिद्ध है. नवरात्रि गुजरात और पश्चिम बंगाल में विशेष पर्व के रूप में मनाई जाती है. नवरात्रे पर उपवास कर रात्रि में माता की आराधना करना कल्याणकारी माना गया है.