नई दिल्ली. लंदन के फ्यूचरलॉजिस्ट  डॉ. लन पियर्सन के अनुसार आज से 35 साल बाद लोग अपने पार्टनर के बजाए रोबोट से सेक्स करना ज्यादा पसंद करेंगे. डॉ पियर्सन ने अपनी रिपोर्ट ‘सेक्स और फ्यूचर’ में कहा की टेक्नोलॉजी दिन पर दिन इतनी एडवांस्ड होती जा रही है की लोग इन्सान के बदले रोबोट से सेक्स करना  पसंद करेंगे. इतनी फ़ास्ट लाइफ में बहुत से कपल अपने सेक्स लाइफ को लेकर काफी परेशान रहते हैं. 
 
इस रिपोर्ट के अनुसार सेक्स के लिए रोबोट के यूज़ से लोगों के आपस में जो इमोशनली बॉन्डिंग होती है वो धीरे धीरे ख़त्म होगी. और लोग अपनी लाइफ में ज्यादा खुश रहेंगे. इस क्षेत्र में काम करते हुए मट मैकुल्लन कंपनी ने एक डॉल बनाया है. और भी अमेरिकन कंपनिया इस क्षेत्र में काम कर रहें है. वही दूसरी तरफ ब्रिटेन में ही सेक्स रोबोट को बैन करने का कैंपेन शुरू है. जिसमें ऐसे रोबोट एंड रोबोट बनाने वाली कंपनी को बंद करने की मांग की जा रही है क्यों कि यह ह्यूमन रिलेशन के लिए काफी खतरनाक हैं.