न्यूयॉर्क. कार्यस्थलों पर फेसबुक के इस्तेमाल को मंजूरी नहीं देने की नीति में निकट भविष्य में बदलाव आ सकता है, क्योंकि फेसबुक द्वारा डिजाइन ‘फेसबुक एट वर्क’ कार्यस्थलों पर इस्तेमाल किया जाएगा. ‘फेसबुक एट वर्क’ नामक टूल जनवरी से ही परीक्षण में है, हालांकि पायलट कार्यक्रम खत्म हो चुका है और कंपनी द्वारा इस साल के अंत तक इंटरऑफिस नेटवर्क के मुफ्त संस्करण को लांच करने की संभावना है.
 
फेसबुक कई सालों से अपने ‘फेसबुक एट वर्क’ संस्करण पर काम कर रही है. परीक्षण के तहत 100 से अधिक कंपनियां ‘फेसबुक एट वर्क’ का इस्तेमाल कर रही है. एक प्रमुख बियर निर्माता कंपनी हेनेकन ‘फेसबुक एट वर्क’ को अपने शीर्ष 40 कार्यकारियों के साथ परीक्षण कर रही है, लेकिन कंपनी की योजना अपने सभी 550 अमेरिकी कर्मचारियों तक इसे सितंबर के अंत तक पहुंचाने की है.
 
लैटिन अमेरिका की एक ई-कॉमर्स कंपनी लिनियो उत्पाद का प्रसार इस महीने के अंत तक 200 से बढ़ाकर 2 हजार लोगों तक करने जा रही है. हुटसूट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) रयान होम्स ने कहा, ‘संगठन द्वारा लोगों को फेसबुक के इस्तेमाल से रोकना अयथार्थवादी है. यह वैसा ही है, जैसे लोगों से कहना कि उनका व्यक्तिगत फोन नहीं हो सकता.’
 
IANS