नई दिल्ली. नोएडा स्थित जे पी अस्पताल में एक अनोखी हार्ट सर्जरी का मामला सामने आया है. यहां 15 साल की नेहा का हृदय का रेसटिली प्रकिया अपनाते हुए फोनटन रीमूवल(Fontan removal) और बाई-वेंट्रिकुलर(Biventricular repair)रिपेयर किया गया.

पूरे विश्व में अब तक ऐसी 6 सर्जरी हुई है वहीं भारत में इस तरह की यह पहली सर्जरी हैं. हरियाणा के मानेसर की रहने वाली नेहा के हार्ट से बाहर की ओर निकलने वाली आर्टरी असामान्य तरीके से विपरीत वेंट्रिकलस से जुड़ी हुई थीं. इसकी वजह से हृदय द्वारा पंप किया जाने वाला अशुद्ध रक्त उसके शरीर में जा रहा था, जबकि शुद्ध रक्त उसके फेफड़ों में जा रहा था. उसके हार्ट के दाएं तरफ वेंट्रिकल और ट्राईकस्पिड वाल्व का आकार भी सामान्य से छोटा था साथ ही हृदय में कई छेद भी थे.

इससे पहले नेहा के हृदय की कई सर्जरी हो चुकी है लेकिन उससे नेहा के स्वास्थ्य में सुधार नहीं हुआ. जेपी अस्पताल के बाल हृदय सर्जरी विभाग के डायरेक्टर डॉक्टर राजेश शर्मा ने ऑपरेशन के बारे में बताया कि मरीज की हालत बहुत खराब थी और हमारे पास ज्यादा समय नहीं था. इसलिए हमारी टीम ने मरीज के हृदय का फोनटन रीमूवल करने के साथ-साथ बाई-वेंट्रिकुलर रिपेयर करने का फैसला लिया. सर्जरी के बाद नेहा को वेंटीलेटर पर रखा गया है और अब वह पूरी तरह से स्वस्थ हैं.