मेंहदीपुर. आपने किसी जुर्म पर पुलिस को अपराधियों पर थर्ड डिग्री देने के बारे में सुना होगा, लेकिन क्या आपने भूत, प्रेत या बुरी आत्मा को थर्ड डिग्री दिए जाने के बारे में सुना है?

जी हां. अगर आप राजस्थान के मेंहदीपुर स्थित बालाजी मंदिर जाएं तो श्रद्धालुओं से यह सुनेंगे कि यहां भूतों को थर्ड डिग्री दी जाती है, वह भी हनुमान जी के नाम के जयकारे से. मंदिर में बजरंग बली की बालरूप मूर्ति स्वयंभू है. साथ ही प्रेतराज सरकार और कोतवाल कप्तान भैरव की मूर्तियां भी हैं. यहां मंदिर में बड़ी संख्या में ऊपरी बाधा से ग्रसित लोग अजीबोगरीब हरकत करते नजर आते हैं, जिनका मंदिर परिसर में दिन-रात बालाजी का जयकारा लगाते हुए इलाज किया जाता है.

मेंहदीपुर बालाजी धाम इसलिए भी अनोखा है, क्योंकि यहां अन्य मंदिरों की तरह न तो प्रसाद चढ़ाया जाता है और न ही श्रद्धालु किसी तरह का प्रसाद अपने घर ले जा सकते हैं. हाजिरी या दरख्वास्त लगाने के नाम पर पांच रुपये में मिलने वाले छोटे-छोटे लड्डू जरूर चढ़ाए जाते हैं, लेकिन कोई भी श्रद्धालु उन्हें खुद अपने हाथ से किसी मूर्ति पर नहीं चढ़ा सकता.

IANS