नई दिल्ली: वैसे तो किसी भी संबंध के शुरू होने और टूटने में आपसी समझ और एक-दूसरे के लिए प्यार और सम्मान ही मायने रखता है. इसका किसी महीने से कोई लेना देना नहीं है. 

लेकिन एक सर्वे में चौकाने वाली बात सामने आई है. इस सर्वे में कहा गया कि सबसे ज्यादा ब्रेकअप जनवरी के महीने में होते है. साल की शुरुआत में ही सबसे ज्यादा रिश्ते टूटते है. 

नए साल में लेते हैं अच्छी शुरुआत का रिजोल्युशन

पिछले साल एक मनी सेविंग ब्रांड वाउचर क्लाउड ऑनलाइन के रिसर्च में कहा गया है कि जनवरी में सबसे ज्यादा ब्रेकअप होते हैं इसका मुख्य कारण है कि जनवरी से साल की शुरूआत होती है. साल के इस समय में हर कोई कुछ ना कुछ रिजोल्युशन लेता है. 

 
इस रिजोल्युशन में वो अच्छे काम की शुरूआत करता है. इसी वजह से बहुत से लोग अपने उस रिश्ते को खत्म कर देते हैं जो महज बोझ बन कर रह गया हो. हर कोई अपने जीवन में एक नई शुरुआत इस महीने से करना चाहता है.
 
ब्रिटेन में 18 वर्ष से अधिक उम्र के लगभग 2000 लोगों पर की गई इस रिसर्च में पाया गया कि इनका जनवरी महीने में ब्रेकअप सबसे ज्यादा हुआ था. रिसर्च में ब्रेकअप और रिलेशनशिप पर किए गए सवालों के इन्होंने जो जवाब दिया उससे ये साबित हुआ कि युवाओं के लिए जनवरी के महीने में ब्रेकअप करना बहुत ही आम बात है.
 
एडल्ट का ब्रेकअप 3 महीने में हो सकता है
एक रिसर्च के अनुसार आज के समय में वयस्कों को दिल तोडऩे में 3 महीने से लेकर 11 सप्ताह का समय भी नहीं लगता है.हालांकि द हेल्थ साईट पर प्रकाशित एक खबर में कहा गया है कि ब्रेकअप की अच्छी बात ये है कि इससे युवाओं को बहुत कुछ सीखने के लिए मिलता है. यही नहीं उनमें असल जिंदगी को परखने की समझ भी विकसित होती है.
 
रिसर्च के दौरान 155 वयस्क युवाओं ने इस बात को स्वीकार किया कि वे रिलेशनशिप में फेल हुए है. लेकिन इसमें से 71 फीसदी युवाओं ने माना की ब्रेकअप से बहुत कुछ सीखने को मिला है.
 
इससे ये बात तो जाहिर हो जाती है कि जब किसी का ब्रेकअप होता है तो वह पहले से कहीं ज्यादा इमोशनली स्ट्रोंग हो जाता है और जिन्दगी के प्रति गंभीर भी हो जाता है. हालांकि जब एक रिश्ता टूटता है तो उसके साथ वो इन्सान भी पूरी तरह टूट जाता है.