नई दिल्ली. हर कोई शादी का लड्डू खाना पसंद किया करता है. कोई कहता है कि शादी नहीं करनी चाहिए और कोई कहता है कि शादी का एक अलग ही मजा है. सबसे दिलचस्प बात यह है कि लोग अपनी शादी के बाद ही दूसरे लोगों को शादी से मना करते हैं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
कुछ लोगों की शादियां लंबे दिन तक चलती है और कुछ लोगों का जल्द ही तलाक हो जाता है. कुछ लोगों का तो न तलाक होता है और न ही दोनों एक-दूसरे से खुश ही रहते हैं. खैर आज हम आपको शादी के इतिहास में नहीं ले जाएंगे, बल्कि ये बताएंगे कि शादी करने का सबसे सही और खराब समय है. सबसे पहले हम आपको शादी का सबसे खराब समय बताते हैं. किशोरावस्था में तो भूल कर भी शादी नहीं करनी चाहिए. यह सबसे ज्यादा जोखिम भरा होता है और इसमें तलाक होने का सबसे ज्यादा खतरा रहता है.
 
वहीं जब आप युवावस्था में होते हैं तो आप आर्थिक रूप से कमजोर होते हैं और अपने कॅरियर को लेकर परेशान रहते हैं. साथ ही परिवार के लोगों और दोस्तों की ओर से भी आपके ऊपर शादी का दबाव रहता है. जबिक इस समय आपका दिमाग पूरी तरह से विकसित नहीं रहता है इसलिए युवास्था में भी शादी करने से परहेज करनी चाहिए.
 
जानकारों की मानें तो युवास्था के बाद भी शादी के लिए आपको कुछ समय इंतजार करनी चाहिए. जो लोग 25 साल की उम्र में शादी करते हैं उनके तलाक की संभावना 20 साल की उम्र में शादी करने वालों की तुलना में 50 फीसदी तक कम हो जाती है. कुछ रिसर्च के मुताबिक जितनी ज्यादा उम्र में जो शादियां होती हैं उनमें तलाक की संभावना कम होती है क्योंकि ऐसे लोग जब तक शादी करते हैं तब तक उनकी आर्थिक स्थिति मजबूत हो जाती है और वे एक दूसरे को अच्छी तरह से जान-समझ लेते हैं.
 
सामजाकि शोधकर्ता निकोलस वोलफिंगर ने हाल में एक रिसर्च किया है जिनके आंकड़े राष्ट्रीय परिवार विकास सर्वेक्षण (NSFG) पर आधारित हैं. निकोलस के रिसर्च के अनुसार शादी का सही उम्र 28 से 32 से बीच का है. अगर आप 30 के बाद शादी करते हैं तो आपके लिए ये जोखिम भरा हो सकता है बजाय कि 20 की तुलना में. कम उम्र में शादी करने के फायदे ये है कि तलाक की संभावना कम होती है क्योंकि जिंदगी की शुरुआती पड़ाव होते हैं.
 
रिसर्च के मुताबिक जिन लोगों ने किशोरावस्था में हुई शादियों में 38 फीसदी, 20 साल से पहले की शादियों में 27 फीसदी, 25-29 के बीच शादी करने वालों में 14 फीसदी और 30-34 साल की उम्र में शादी करने वालों में तलाक की संभवना 10 फीसदी होती है.