नई दिल्ली: यदि आपको भी लगता है कि आप बातों को भूलने लगे हैं तो आपके लिए यह खबर बड़े काम की है. नॉटिंघम में ब्रिटिश साइकोलॉजिकल सोसायटी के वार्षिक सम्मेलन में पेश हुए एक रिपोर्ट में यह बात सामने आई है.
 
रिपोर्ट के मुताबिक 180 लोगों को रिसर्च में शामिल किया गया था जिसमें कुछ लोगों को पुदिने वाली चाय दी गई थी और कुछ लोगों को कैमोमोल चाय और गर्म पानी दिया गया.
 
शोध के बाद रिसर्च में शामिल सभी प्रतिभागियों से 20 मिनट तक जवाब-सवाल किया गया, जिसमें पाया गया है कि पुदिने की चाय पीने वालों की दिमाग पहले से ज्यादा सक्रीय हो गया है और उनकी एकाग्रता में भी गजब का परिवर्तन देखा गया. वहीं इसके विपरित कैमोमोल चाय पीने वालों लोगों की याद्दाश्त पहले से कमजोर हो गई थी और एकाग्रता में भी कमी देखी गई.