नई दिल्ली. नेशनल सैंपल सर्वे ऑर्गनाइज़ेशन (एनएसएसओ) ने देश में गर्भपात के चौंकाने वाले आंकड़े जारी किए हैं. एनएसएसओ के मुताबिक अबॉर्शन कराने के मामले में देश के शहरी इलाकों की लड़कियां सबसे आगे हैं.
 
14 फीसदी अबॉर्शन 20 साल से कम उम्र में
एनएसएसओ के मुताबिक शहरी इलाकों में होने वाले कुल अबॉर्शन में 14 फीसदी मामलों में लड़कियों की उम्र 20 साल से कम है, जबकि ग्रामीण इलाकों में 20 साल से कम उम्र में अबॉर्शन के मामले सिर्फ 0.7 फीसदी हैं.
 
सर्वे में ये देखा गया कि ग्रामीण इलाकों में अबॉर्शन के सबसे ज्यादा मामले 35 से 40 साल की उम्र के हैं. शहरों में 35-40 साल आयु वर्ग में अबॉर्शन के मामले 2 फीसदी हैं. एनएसएसओ का ये सैंपल सर्वे देश में 15 साल से 49 साल तक की 20 हज़ार गर्भवती महिलाओं पर आधारित है.