बीजिंग. ठंड के दिनों में खांसी आम बात है, जब भी खांसी होती है तो लोग तरह-तरह के दवा या घरेलु टिप्स आजमाते है. लेकिन अब जब भी खांसी हो तो इन सब के बजाए चॉकलेट खाइए. न्यूज पेपर डेली मेल के मुताबिक चॉकलेट खाना खांसी में कारगर नुस्खा है.
 
हुल विश्वविद्यालय में हृदय और सांस अध्ययन के प्रमुख प्रोफेसर एलिन मोरिस ने कहा, ‘चॉकलेट खांसी को रोक सकता है.’ प्रोफेसर ने कहा कि अध्ययनों में पाया गया है कि खांसी के मरीज जब चॉकलेट आधारित दवा लेते हैं, तो दो दिन में ही काफी राहत मिलती है.
 
इससे पहले भी दूसरे अध्ययनों में ऐसी बात कही जा चुकी है. लंदन के इंपीरियल कॉलेज के शोधार्थियों ने पाया कि कोकोआ में पाया जाने वाला एक अल्केलॉइड थियोब्रोमिन खांसी को कोडीन से बेहतर तरीके से रोक सकता है. कोडीन खांसी की दवा में पाया जाने वाला एक आम यौगिक है.
 
आखिर खांसी में चॉकलेट से आराम क्यों मिलता है?
शोधार्थियों का दावा है कि कोकोआ का गुण शांति देने वाला या स्निग्धकारी होता है. इसका मतलब यह है कि यह सूजन और खरास में आराम पहुंचाता है. खास तौर से इसका कारण यह है कि यह कफ सीरप की तुलना में अधिक अच्छी तरह से चिपकता है और बेहतर लेप का काम करता है, जिससे कंठ में नस की सिरा को सुरक्षा मिलती है. यह सिरा ही हमें खांसने के लिए मजबूर करता है.