वॉशिंगटन. एक रिसर्च के मुताबिक अब गे या लेस्बियन कपल्स भी अपना जैविक बच्चा पैदा कर सकते है. आवीजी(इन विट्रो गेमटॉजिनेसस) प्रजनन(Reproduction) तकनीक के जरिए कोशिश की जा रही है कि दो सेम सेक्स वाले लोगों के एग्स को इस्तेमाल करके इसे सक्षम बनाया जाए. इस तकनीक के माध्यम से एक पैरेंट्स के दो से ज्यादा बच्चे जन्म ले सकते हैं.
 
 
जॉज वॉशिंगटन यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर स्यूटर ने कहा कि आवीजी के माध्यम से सेम सेक्स कपल्स में दोनों के जैविक बच्चे को पैदा करने की संभावना बढ़ गई है. दो से ज्यादा लोगों के ग्रुप्स(चाहे सभी पुरूष हों, सारे महिला हों या फिर एक कॉम्बिनेशन हो) साथ में जन्म दे सकते हैं. ये बच्चे उन सब के आनुवांशिक संतान होंगे और अंतत: सिंगल इंडिविजुअल्स बिना किसी आनुवांशिक योगदान के दूसरे इंडिविजुअल से बच्चा पैदा कर सकते हैं. इसे सोलो आईवी कहा जा सकता है.