नई दिल्ली. विशेषज्ञों का कहना है कि चुस्त कपड़े पहनने से पीठ दर्द की समस्या से भी जूझना पड़ सकता है. चुस्त कपड़े पहनने से आपकी रीढ़ की हड्डी पर दबाव पड़ता है, जो पीठ दर्द का कारण है. ‘की स्पाइन क्लिनिक’ के रीढ़ सलाहकार सूरज बाफना ने पीठ दर्द के निम्नलिखित कारण बताए :-

  • चुस्त स्कर्ट: चुस्त स्कर्ट और परिधान पहनने से आपके घुटने आपस में जुड़ जाते हैं, जिससे चलने में भी मुश्किल होती है. कई बार मांसपेशियों में खिंचाव से कई समस्याएं खड़ी हो जाती हैं.
  • चुस्त जींस: चुस्त और शरीर से चिपकी हुई जींस आपकी कमर, नितंब और, जांघ और पिंडलियों को कस कर जकड़ लेती हैं, जिससे जोड़ों में खिचांव की समस्या उत्पन्न हो जाती है.
  • बड़े हैंडबैग: हैंडबैग जितना बड़ा होगा, उसमें उतना अधिक सामान आएगा.इस वजह से आपके शरीर के एक हिस्से पर अधिक भार होना पीठ दर्द के कारणों में से प्रमुख है. 
  • ऊंची एड़ी की सैंडिल पहनना: ऊंची एड़ी की सैंडिल पहनना आपके पैरों और पीठ के लिए दर्दनाक हो सकता है. इससे पिंडली की मांसपेशियां छोटी हो जाती हैं, जिससे शरीर में रक्त प्रवाह, घुटने में दर्द और पीठ दर्द की समस्याएं उत्पन्न हो जाती हैं.
  • गले में भारी आभूषण पहनना: गले में भारी आभूषण पहनने से भी मांसपेशियों, नसों और गले के जोड़ों पर दबाव पड़ता है. 
  • एकतरफा बाल रखना: सिर के एकतरफ बालों को रखने से यह फैशनेबल लगता हो. लेकिन यह गर्दन के लिए काफी तकलीफदेह हो सकता है. इससे सिर एक तरफ और ठोड़ी दूसरी तरफ झुक जाती है. यह स्थिति गर्दन के लिए नुकसानदायक है. (IANS)